Warning: session_start(): open(/opt/alt/php72/var/lib/php/session/sess_5a650eb43f2241921641885379b8d6ae, O_RDWR) failed: Disk quota exceeded (122) in /home/noblerun/public_html/wp-content/plugins/accelerated-mobile-pages/includes/redirect.php on line 360

Warning: session_start(): Failed to read session data: files (path: /opt/alt/php72/var/lib/php/session) in /home/noblerun/public_html/wp-content/plugins/accelerated-mobile-pages/includes/redirect.php on line 360
What is Tomato Flu? Causes, symptoms, prevention, and treatment - Noble Runner

What is Tomato Flu? Causes, symptoms, prevention, and treatment

What is Tomato Flu? Causes, symptoms, prevention, and treatment


टोमेटो फ्लू क्या है? कारण, लक्षण, बचाव और उपचार

केरल में 6 मई, 2022 को टोमेटो वायरस का पहला मामला दर्ज किया गया। त्वचा में जलन टोमेटो फ्लू के लक्षणों में से एक है।। लैंसेट अध्ययन से पता चलता है कि कोरोनावायरस और मंकीपॉक्स के बाद, भारत में टोमैटो फ्लू ट्रेंड कर रहा है क्योंकि
लैंसेट अध्ययन में कहा गया है कि यह सामान्य संक्रामक रोग आम तौर पर एक से पांच वर्ष की आयु के बच्चों और कमजोर इम्यूनिटी वाले वयस्कों प्रभाव ज्यादा करता है। अध्ययन में दावा किया गया है कि यह बीमारी मुंह, हाथ और पैर को प्रभावित करती है।

टोमेटो फ्लू क्या है?

टोमेटो फ्लू को केरल में सबसे पहले पहचाना गया, टोमेटो फ्लू एक वायरस है और कोविड -19 के समान लक्षण दिखाता है लेकिन यह SARS COV-2 से संबंधित नहीं है। इस बीमारी की पहचान सबसे पहले केरल के कोल्लम जिले में हुई थी। टोमेटो फ्लू वायरल संक्रमण होने के बजाह बच्चों में डेंगू बुखार या चिकनगुनिया का बाद का प्रभाव हो सकता है।

What does tomato have to do with Tomato Flu?

ऐसे मिथक हैं की यह फ्लू का संबंध टोमेटो से है। हालांकि, इसे ‘टमाटर’ क्यों कहा जाता है, इसका कारण लाल और दर्दनाक फफोले हैं जो पूरे दिखाई देते हैं और धीरे-धीरे टोमेटो के आकार तक बढ़ते हैं।

What are the causes of Tomato Flu?

अभी तक कोई जानकारी प्राप्त नही हो पाई है टोमेटो फ्लू की उत्पत्ति और कैसे यह फैल रहा है। हेल्थ डिपार्टमेंट अभी जानकारी जुटाने में अग्रसर है।

What are the symptoms of Tomato Flu?

तेज बुखार
बड़े फफोले, टोमेटो के आकार का जो लाल रंग का होता है
चकत्ते
त्वचा में खराश
निर्जलीकरण
शरीर में दर्द
जोड़ों में सूजन
कुछ रोगियों में निम्न लक्षण भी दिखाई दियें है जो कि टोमैटो फ्लू की गंभीरता को दर्शाते हैं :-
हाथों, घुटनों और नितंबों का मलिनकिरण
मतली आना
उल्टी आना
पेट में ऐंठन हो जाना
थकान बने रहना
सामान्य से ज्यादा खाँसना
छींक आना

Non-life threatening till now

टोमेटो फ्लू से जान जाने का खतरा अभी तक कम माना जा रहा है।
नसों, धमनियों, फेफड़ों, हृदय, पैरों और मस्तिष्क में रक्त के थक्के जमने के मामले पाए गए हैं।

Tomato Flu: Symptoms similar to other diseases

टोमेटो फ्लू के लक्षण डेंगू चिकनगुनिया से मिलते जुलते है जैसे शरीर पर दाने होना, स्किन पर चिटकट्टे होना, बुखार, उल्टी, joints मे सूजन होना इत्यादि। हालाकि ऑफिशियल जानकारी कैसे और क्यों टोमेटो फ्लू फैलता है नही मिल पाई है।

What are the symptoms of Tomato Flu?

त्वचा में जलन: यह टोमेटो फ्लू से संक्रमित व्यक्ति के सबसे आम लक्षणों में से एक है स्किन पर जलन होना।
मलिनकिरण: पैर और हाथ का रंग फीके पड़ जाते हैं और थोड़ा पहचाना नहीं जा सकता।
थकान होना।
पेट में ऐंठन, जी मिचलाना, उल्टी या दस्त: हालांकि ये लक्षण भी आम हैं।
खांसी, बुखार, छींक आना या नाक बहना: कोरोना वायरस में भी यही लक्षण हैं.
जोड़ों का दर्द और शरीर में दर्द: टोमेटो के वायरस से संक्रमित व्यक्ति को चलने-फिरने में दिक्कत होती है।

How can you prevent Tomato Flu?

विशेषज्ञों के अनुसार, इस बीमारी में मृत्यु दर अधिक नहीं है और टोमेटो फ्लू का आसानी से इलाज किया जा सकता है। टोमेटो फ्लू से बचाव के कुछ तरीके यहां दिए गए हैं।
अपनी डाइट में पेय पदार्थो को ज्यादा लें, जूस और पानी का अधिक इस्तेमाल करें।
उबला पानी ज्यादा पिएं।
फाफोलो को न छुए।
साफ सफाई का विशेष ध्यान रखें।
टोमेटो फ्लू के संक्रमित व्यक्ति से दूरी बना के रखें।
संक्रमित व्यक्ति को पर्याप्त आराम लेना चाहिए जिसे टोमेटो फ्लू का भविष्य में कोई प्रभाव न पड़े।

What is the diagnosis for Tomato Flu?

यहां सूचीबद्ध लक्षणों वाले मरीजों को जीका वायरस, चिकनगुनिया और डेंगू के निदान के लिए molecular और सीरोलॉजिकल परीक्षण करना चहिए।

How to treat Tomato Flu?

टोमेटो फ्लू का उपचार चिकनगुनिया और डेंगू के उपचार के समान लगता है। मरीजों को आराम से अलग रहने, हाइड्रेटेड रहने और बहुत सारे तरल पदार्थ पीने की सलाह दी जाती है।
टोमेटो फ्लू में कुछ दवाओं का उपयोग किया जा सकता है “बुखार और शरीर में दर्द के लिए पेरासिटामोल की सहायक चिकित्सा और अन्य रोगसूचक उपचार की आवश्यकता होती है।”
लैंसेट रेस्पिरेटरी मेडिसिन जर्नल में प्रकाशित एक नए अध्ययन में चेतावनी दी गई है कि छोटे बच्चों में संभावित रूप से टोमेटो फ्लू के संपर्क में आने का खतरा बढ़ जाता है।छोटे बच्चों को नैपी के इस्तेमाल, गंदी सतहों को छूने और चीजें सीधे मुंह में डालने से भी संक्रमण का खतरा है। अध्ययन में यह भी कहा गया है कि यदि संक्रमण को नियंत्रित नहीं किया गया और छोटे बच्चों में रोका नहीं गया, तो संचरण वयस्कों में भी फैलकर गंभीर रूप ले सकता है।

Tomato flu, the rare viral infection:

यह ध्यान रखना महत्वपूर्ण है कि दुर्लभ वायरल संक्रमण, जिसे पूरे शरीर में लाल और दर्दनाक फफोले के पड़ने के आधार पर अपना नाम मिला, जो धीरे-धीरे टोमेटो के आकार तक बढ़ जाता है, वर्तमान में एक “स्थानिक स्थिति” में है। PTI की रिपोर्ट में बताया गया है कि भले ही संक्रमण को जीवन के लिए खतरा माना नही माना जा रहा है, लेकिन आगे के प्रकोप को रोकने के लिए एक सतर्क प्रबंधन वांछनीय है।

क्या टोमैटो फ्लू संक्रामक है? Is Tomato Flu Contagious?

फ्लू के अन्य मामलों की तरह, टोमैटो फ्लू भी संक्रामक है। आपको जानकार हैरानी होगी कि टोमैटो फ्लू एक छुआ छूत की बीमारी है जो छूने से फैलती है। इसलिए अगर आपके आसपास कोई व्यक्ती इस बीमारी से पीड़ित है तो उससे दूरी बनाकर रखें और खासकर बच्चों को उस बीमार व्यक्ति से दूर रखें। यह गलती आपके बच्चे को भारी पड़ सकती हैं। और यदि आपका बच्चा इस गंभीर बीमारी की चपेट में आ गया है तो ऐसे में उसे सबसे अलग रखें और उसके करीब कम से काम जाएं। फ़िलहाल, यह लेख लिखे जाने तक राहत की बात यह कि अभी तक टोमैटो फ्लू से किसी की जान नहीं गई है।

क्या चिंता का कोई कारण है? Is there any cause for concern?

हालांकि यह निस्संदेह संक्रामक है, स्वास्थ्य अधिकारियों ने आश्वासन दिया है कि यह घातक नहीं है और इस फ्लू का इलाज किया जा सकता है। हालांकि, संक्रमित बच्चे के साथ निकट संपर्क से बचने की सलाह दी जाती है।

टोमैटो फ्लू का इलाज क्या है? What is the treatment for tomato flu?

वर्तमान में, टोमैटो फ्लू के लिए अभी कोई विशेष उपचार नहीं है। इसलिए, इस रोग को केवल लक्षणात्मक रूप से प्रबंधित किया जा सकता है।
अगर किसी बच्चे को टोमैटो फ्लू हो गया है तो उसके घर के अंदर और आसपास साफ-सफाई रखें। बच्चे के शरीर पर लाल चकत्ते होने पर उसे खुजलाने ना दें। अपने स्वस्थ बच्चों को संक्रमित मरीजों से दूर रखें और उनके सामान का इस्तेमाल करने से बचें। एक्सपर्ट्स की माने तो इस बीमारी की सबसे बड़ी समस्या है कि इसमें मरीज के शरीर में पानी की कमी हो जाती है, तो मरीज के शरीर में पानी की कमी को दूर करते रहना होगा। फलों का जूस पीते रहें, शरबत पियें और शरीर में पानी की कमी को दूर करने के लिए पानी पीते रहें। अगर आपका बच्चा पानी नहीं ले रहा है तो ऐसे में उसे अस्पताल में भर्ती करा कर ड्रिप लगाईं जा सकती है।

अगर आपका बच्चा टोमैटो फ्लू से संक्रमित हो जाए तो क्या करें? What to do when your child gets infected with tomato flu?

अगर आपका बच्चा टोमैटो फ्लू से संक्रमित हो गया है तो निम्नलिखित बातों का खास ध्यान रखें :-
तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें।
उचित स्वच्छता बनाए रखें।
अपने बच्चे को फफोले खरोंचने न दें।
अपने बच्चे को उबला हुआ पानी पिलाकर उसे हाइड्रेटेड रखें
बच्चे को नहलाने के लिए गर्म पानी का इस्तेमाल करें।
संक्रमित व्यक्ति के निकट संपर्क से बचें।
फ्लू को फैलने से रोकने के लिए संक्रमित रोगी द्वारा उपयोग किए जाने वाले कपड़े, बर्तन और अन्य सामान को अलग से साफ करना चाहिए।

टोमैटो फ्लू होने पर कौन से घरेलू उपाय पाएं? What are the home remedies for tomato flu?

बिलकुल नहीं, अगर आपका टोमैटो फ्लू के लक्षण है तो आपको कोई भी घरेलु उपचार नहीं अपनाना चाहिए। फिलाहल, इस गंभीर बुखार के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं हैं, तो बिना किसी विशेषज्ञ की सलाह के उठाया गया कदम गंभीर परिणाम खड़े कर सकता है।
बल्कि, टोमेटो बुखार के लक्षणों को जानें और देखते ही तुरंत डॉक्टर से सलाह लें। त्वचा पर लाल छाले, त्वचा में जलन, जोड़ों में दर्द, नाक बहना, तेज बुखार, पेट दर्द, उल्टी, खांसी, शरीर में दर्द, छींक आना, दस्त और थकान इसके लक्षण हैं।
टोमेटो फ्लू होने पर बच्चे को ज्यादा पानी पीना पड़ेगा। अगर आप पानी पी सकते हैं, तो कई समस्याएं हल हो जाएंगी। इसके अलावा रैश-आउट एरिया( जहां फफोले, चितकत्ते hon) को भी धीरे से साफ करना चाहिए। अगर शरीर पर दोबारा घाव हो जाए तो सावधान हो जाएं। लेकिन उस रैश को अपने नाखूनों से किसी भी तरह से न खुजलाएं। ऐसे में संक्रमण का खतरा कई गुना बढ़ सकता है। ऐसे में सावधान रहने के अलावा कोई चारा नहीं है।

टोमाटो फ्लू से कैसे बचें? How to Avoid Tomato Flu?

टोमाटो फ्लू से अपना और अपने घर और बच्चों का बचाव करना बहुत ही आसान है। विशेषज्ञों की माने तो इस बीमारी में मृत्यु दर बहुत कम है और इसका आसानी से इलाज हो सकता है। तो ऐसे में आप टोमाटो फ्लू से बचाव के लिए निम्नलिखित कदम उठा सकते हैं :-
दिन भर में कम से कम दो लीटर पानी लें, इसके अलावा अन्य पेय उत्पादों का सेवन भी कर सकते हैं, जैसे – ताजा जूस और नारियल पानी
ठंडे पानी की जगह गुनगुना पानी लें
अगर फफोले हो गए हैं तो उन्हें छुए न।
बच्चों की साफ-सफाई का खास ख्याल रखें
यदि घर में कोई टोमाटो फ्लू से संक्रमित हो गया है तो निम्नलिखित कदम उठाएं :-
टोमाटो फ्लू से संक्रमित व्यक्ति/बच्चे से उचित दूरी बनाकर रखें
संक्रमित रोगी के पास जाने से पहले मास्क और दस्तानों का उपयोग करें
संक्रमित रोगी के आसपास साफ़-सफाई का खास ख्याल रखें
सेनीटाईजार से हाथ को समय-समय पर धोते रहें
संक्रमित बच्चों के खिलौने, कपड़े, खाना और अन्य वस्तुओं को दूसरे बच्चों को उपयोग न करने देन।
संक्रमित होने के दौरान और संक्रमण से ठीक होने के बाद शरीर को आराम दें, कुछ ऐसा काम न करें जिससे थकान, बुखार और अन्य कोई शारीरिक समस्या हो जाए

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Telegram
WhatsApp