Monday, January 17, 2022
HomeNutritionSoyabean |सोयाबीन सबसे सस्ता प्रोटीन पाउडर

Soyabean |सोयाबीन सबसे सस्ता प्रोटीन पाउडर

Soyabean |सोयाबीन सबसे सस्ता प्रोटीन पाउडर

शाकाहारी बॉडी बिल्डर्स के लिए सोयाबीन किसी वरदान से कम नहीं है क्योंकि मांसाहारी लोगों को प्रोटीन जुटाने में कोई भी तकलीफ नहीं होती है और वही अगर आप शाकाहारी पदार्थों की तरफ देखें तो प्रोटीन इतनी मात्रा में नहीं मिलता है तथा प्रोटीन के साथ साथ फैट मिल जाता है जो कि बॉडीबिल्डिंग दृष्टि से अच्छा नहीं होता है तो अगर आप प्रोटीन के लिए परेशान हैं तो आपको एक बार सोयाबीन का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए सोयाबीन में ढेर सारी मात्रा में प्रोटीन होता है


Soyabean is natural vegetarian food supplement
तथा यह मार्केट में काफी सस्ता मिल जाता है और इसे आसानी से आप कहीं से भी खरीद सकते हैं

Soyabean |सोयाबीन सबसे सस्ता प्रोटीन पाउडर में कितना प्रोटीन होता है?


सोयाबीन मार्केट में 2 तरीके से मिलता है सोयाबीन चंक्स और सोयाबीन के दाने दोनों में ही प्रोटीन की मात्रा अलग अलग होती है तो यदि आप सोयाबीन के दाने लेते हैं इसमें 100 ग्राम सोयाबीन दाने में 36 ग्राम प्रोटीन 20 ग्राम 36 ग्राम कार्बोहाइड्रेट 9 ग्राम फाइबर और लगभग साढे 400 कैलोरीज होती है और यदि आप सोया चंक्स लेते हैं तो इसमें 100 ग्राम सोना चंक्स में 56 ग्राम प्रोटीन होता है तो आप कितना प्रोटीन बहुत ही आसानी से और बहुत ही कम रेट में खा सकते हैं
तो आपने देखा सोयाबीन चंक्स में ढेर सारी मात्रा में प्रोटीन होती है तथा इसमें कैलोरीज भी कम होती हैं बस इसमें एक ही दिक्कत है वह है फैट क्योंकि इसमें 20 परसेंट फैट होता है लेकिन फिर भी आप इसे इस्तेमाल कर सकते हैं अगर आप अपना मसल्स वेट बढ़ाना चाहते हैं तो आपको कुछ भी सोचने की जरूरत नहीं है


Soyabean |सोयाबीन सबसे सस्ता प्रोटीन पाउडर से क्या एस्ट्रोजन हारमोंस बढ़ता है?

तो सोयाबीन से कोई भी नुकसान नहीं होता है लेकिन आप देखते हैं किसी भी चीज को अगर आप limite से ज्यादा खाएंगे तो खाने से कुछ ना कुछ समस्या जरूर होगी ऐसा ही सोयाबीन के साथ भी होता है। soyabean को आप लिमिट में खायें। और ऐसा ना सोचे किस में ढेर सारा प्रोटीन है तो आप पूरे दिन सोयाबीन को ही खायेंगे। एक टाइम आफ सोयाबीन खाइए तो दूसरी मील में दाल, या किसी और source का इस्तेमाल करें। दालों में भी काफी मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है।
बहुत सारे लोगों से मैंने सुना है सोयाबीन नहीं खाना चाहिए इससे एस्ट्रोजन हार्मोन्स का लेवल बढ़ जाता है। ऐसा जब होता है जब आप ज्यादा मात्रा में सोयाबीन का यूज़ करेंगे तब आपको एस्ट्रोजन की प्रॉब्लम होगी। अगर आप ठीक मात्रा में कम मात्रा में उसको खाएंगे लगभग एक बार में आप 50ग्राम से ज्यादा नही खाएं जिससे आपको 25ग्राम प्रोटीन मिल जाएगा और इतना काफी होता है 1 मील से प्रोटीन की मात्रा की।


सोयाबीन में ढेर सारी मात्रा में प्रोटीन होता है तो ये suppliments पाउडर को टक्कर देता है। ऐसी suppliments company बंद हो जाएगी इसलिए कंपनियों ने ऐसी भ्रांति फैला दी है जैसे कि लोग इसका ज्यादा इस्तेमाल ना करें और वह सप्लीमेंट की तरंग क्योंकि अगर सभी लोग सोयाबीन को इस्तेमाल करने लगे तो सप्लीमेंट का यूज कौन करेगा और ऐसी सारी कंपनियों को बहुत बड़ा घाटा होगा।


Soyabean |सोयाबीन सबसे सस्ता प्रोटीन पाउडर को कैसे खा सकते हैैं?


सोयाबीन को आप कैसे भी खा सकते हैं इसको आप उबालकर फ्राई करके दिखा सकते हैं इसका सब्जी बना कर दिखा सकते हैं और इस को पीसकर इसकी रोटियां बना कर भी खा सकते हैं पूरी तरीके से रूठ गया सोयाबीन की नहीं बनती है गेहूं के आटे में एक कम सोयाबीन मिला दो और एक कप चने का आटा और उसे रोटियां बना कर खाएं इसमें आपको ढेर सारी मात्रा में प्रोटीन मिलेगा और बहुत सारे nutriens भी मिलेंगे जिससे आपकी बॉडी बहुत ही जल्द बनेगी यह मेरा दावा है और यह बिल्कुल नेचुरल बनेगी।

सोयाबीन से बने और सारे प्रोडक्ट की मार्केट में अवेलेबल है जैसे सोयाबीन का आटा टोफू सोया मिल्क सोयाबीन ऑयल
सोयाबीन में एंटीऑक्सीडेंट्स phytonutrients जैसे सब्सटेंस होते हैं जो हेल्थ के लिए काफी बेनिफिशियल होते हैं

◾ सोयाबीन प्लांट based प्रोटीन सोर्स का सबसे अच्छा सोर्स है।
◾ सोयाबीन प्रोटीन cholesterol level को कम करता है
◾मैग्नीशियम कैल्शियम पोटेशियम से भरपूर्ण होता है?

Noblerunnerhttps://noblerunner.com
Hi guys. I am enthusiastic of running. I like to spend my time for running. So by this blog i can always contact with running. And feeling happy to solve and share my experience.
RELATED ARTICLES

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments