nitric oxide

Nitric oxide कैसे हांथो की नसें चमकाता है?

बॉडी के कार्य क्षमता को बढ़ाने के लिए बहुत सारे माइक्रोन्यूट्रिएंट्स की जरूरत होती है अगर यह मेट्रो माइक्रोन्यूट्रिएंट्स सही मात्रा में हमारी बॉडी में मौजूद होंगे तो हमारी बॉडी बहुत अच्छी तरीके से परफॉर्म कर पाएगी और हमारे वर्कआउट की अवधि भी बढ़ेगी और मसल्स स्ट्रेंथ भी बढ़ेगा अब माइक्रोन्यूट्रिएंट्स की बात करें तो बहुत सारे माइक्रो nutrients होते है। इन्हीं में से आज हम एक माइक्रोन्यूट्रिएंट्स की बात करने जा रहे हैं जो कि एथलीट्स और बॉडी बिल्डर्स के लिए काफी महत्वपूर्ण होता है अगर हम मैंने अपने खाने में शामिल करेंगे तो उसका बहुत बेनिफिट होगा।

लगभग 30 साल पहले साइंटिस्ट ने पता लगाया बॉडी में एक नेचुरल गैस का प्रोडक्शन होता है जिससे मसल्स रिलैक्स होते हैं रक्त धमनी का आयतन बढ़ता है और रक्त ज्यादा ऑक्सीजन को फ्लो कर पाता है यानी कि नाइट्रिक ऑक्साइड एक ऐसी गैस है जो कि रक्त के वॉल्यूम बड़ा कर कम्युनिकेशन लेवल को बढ़ाता है।


अब बात करते हैं नाइट्रिक ऑक्साइड होता क्या है ?


नाइट्रिक ऑक्साइड एक नेचुरल गैस है जो की बॉडी में प्रोड्यूस होती है नाइट्रिक ऑक्साइड के अवशोषण के बाद यह अमीनो एसिड अर्जिनिन में कन्वर्ट हो जाता है। नाइट्रिक ऑक्साइड blood flow को बढ़ाकर बहुत सारे न्यूट्रिएंट्स को बॉडी के सभी पार्ट्स तक पहुंचाता है
अब बात करते हैं नाइट्रिक ऑक्साइड के फायदे

क्या हैं?


नाइट्रिक ऑक्साइड वासुडीलेशन रिपोर्ट के अनुसार बॉडी बिल्डर एथलीट के लिए important (जरूरी) हो जाता है। क्यों की NO न्यूट्रिएंट्स के साथ-साथ ऑक्सीजन को भी ज्यादा डिलीवरी करता है जिससे एक्सरसाइज के टाइमिंग increase (ज्यादा) हो जाती है।
जब आप हार्ड वर्क आउट करते हैं तो मसल्स और बॉडी में ऑक्सीजन की कमी हो जाती है ऑक्सीजन की कमी के कारण लैक्टिक एसिड बनने लगता है। जिससे जल्दी ही थकान महसूस होने लगती है नाइट्रिक ऑक्साइड इस लैक्टिक एसिड को produce नहीं होने देता या फिर कम कर देता है क्योंकि NO ज्यादा ऑक्सीजन को डिलीवरी करेगा तो लैक्टिक जल्दी प्रोड्यूस नहीं हो पाएगा जिससे वर्कआउट की अवधि बढ़ जाएगी।


Lower Blood Pressure निट्रिक ऑक्साइड निम्न रक्तचाप को कम करता है


जिन लोगों को low blood pressure की शिकायत उन्हें नाइट्रिक ऑक्साइड मदद कर सकता है। नाइट्रिक ऑक्साइड ब्लड प्रेशर को फास्ट करता है। अगर आप नाइट्रिक ऑक्साइड युक्त भोजन खाएंगे तो बहुत कम रिक्स होगा आपके ब्लड प्रेशर कम होने का।


Decrease Muscle Soreness निट्रिक ऑक्साइड मशपेशीय सूजन को कम करता है


L-citrulline or citrulline malate न केवल nitric oxide के निर्माण को बढ़ाता है बल्कि माश्पेशिय सूजन को भी कम करता है। वर्कआउट के बाद आयी सूजन से वर्कआउट में दिक्कत होती है।
एक शोध के अनुसार 41 लोगो को 8 ग्राम citrulline वर्कआउट के 1 घंटे पहले दिया जाने लगा। और बहुत से बैंच प्रेस के सेट लगवाये। उनको 24-48 घंटो बाद तक 40% कम सूजन और दर्द का अनुभव हुआ।
Citrulline malate बॉडी में नाइट्रिक के उत्पादन को बढ़ाता है जिस से मसल्स में ब्लड फ्लो बढ़ता है। बॉडी को ज्यादा नुट्रिएट्स मिलते है और गन्दगी साफ़ होती है जिस से थकान वाले तत्व जैसे लैक्टेट और अमनियो नही बन पाते।

Help Treat Erectile Dysfunction


जिन पुरुषों को Erectile Dysfunction की शिकायत है। उन्हें नाइट्रिक ऑक्साइड लेने का फैसला करना चाहिए इससे ब्लड फ्लो तेज होता है जो कि प्राइवेट पार्ट के अंदर चेंबर में ब्लड फ्लो को बढ़ा कर hard detection (स्तंभ शक्ति) देता है। यह किसी भी सुप्पलीमेंट्स जैसे viagra से ज्यादा सुरक्षित है।


Increase Vascularity निट्रिक ऑक्साइड नसें को फूलता है


बोडीबिल्डर्स को अपनी बॉडी में नसें चमकाने के लिए खासी मेहनत करनी पड़ती है। बॉडी में नसों को उभारने के लिए nitric oxide का सहारा लेकर आसानी से उभार सकते हैं। nitric oxide शरीर की नसों का आकार बड़ा कर देता है जिस से नसे साफ़ उभर कर दिखने लगती हैं।


Nitric oxide supplements निट्रिक ऑक्साइड किसमे पाया जाता हैं?


Nitric oxide ke Main supplement 2 तरीके के होते हैं. अर्जिनिन और citrulline यह दोनों अमीनो एसिड नाइट्रिक ऑक्साइड सप्लीमेंट्स के रूप में जाने जाते हैं।
Nitric ऑक्साइड किन फूड्स में पाया जाता है?

nitric oxide foods
1 – Beets
2 – Leafy greens
3 – Watermelon
4 – Soybeans
5 – Dark chocolate
6 – Nuts and seeds
7 – Red wine
8 – Garlic
9 – Lentils
10 – Green herbs
11 – Meat, poultry, and seafood

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Telegram
WhatsApp