Why Do My Legs Feel Heavy When Running? दौड़ के दौरान पैर भारी क्यों होते हैं?

Why Do My Legs Feel Heavy When Running?


जब भी आप running करते हैं। तो पैर भारी हो जाते हैं (Legs Feel Heavy When Running) ऐसा लगता है की पैरों में जूतों की जगह भारी बजन बाँध कर दौड़ रहे हैं। हर एक कदम को उठाने के लिए बहुत स्ट्रगल करना पड़ता है। इसी स्तिथि में दौड़ का परफॉरमेंस गिर जाता है। अब ऐसा होने के बहुत से कारण हो सकते हैं। कुछ शारीरिक और कुछ न्युट्रिशन। तो इस पोस्ट में हर एक पॉइंट्स को बताऊंगा जिस के कारण दौड़ के दौरान पैर भारी होते हैं।


Legs Feel Heavy When Running – Intense Strength Training


स्ट्रेंथ ट्रेनिंग को अपनी running रूटीन में शामिल करें। स्टेन्थ ट्रेनिंग से मसल्स मांस बढ़ता है और मजबूत होता है जो की आपको तेज दौड़ने में मदद करता है। औए स्ट्रेंथ ट्रेनिंग बॉडी को बैलैंस करने का काम करता है। लेकिन जब आप पैरो की लिमिट से ज्यादा ट्रेनिग करते हैं तो दौड़ जे दौरान पैर भारी होने लगते हैं। पैरो पर एक दम से ज्यादा वर्कआउट न करें हफ्ते में 3 दिन ही पैरो की स्ट्रेंथ ट्रेनिंग करें।


Legs Feel Heavy When Running – Skipping Post-Run Stretches


दौड़ के दौरान पैरो का भारी होने का कारण है दौड़ के बाद स्ट्रेचिंग न करना। जब आप running करते हैं तो पैरो में सूजन आती है। और मांशपेशियां कठोर हो जाती हैं। और उनमें ब्लड फ्लो कम हो जाता है। अगले दिन आज आप running करेंगे तो आपको पैर भारी महसूस होंगे। तो ऐसा न हो इस लिए दौड़ के बाद 15 मिनट स्ट्रेचिंग करें। व फॉर्म रोलर को कठोर मांशपेशियों पर घुमायें(Roll करें).।

https://noblerunner.com/complete-army-race-15-days/


Legs Feel Heavy When Running – Overtraining


दौड़ के दौरान पैरों का भारी होने का कारण है overtraining जब आप अपनी छमता से ज्यादा रनिंग करते है तो पैर भारी होने लगते हैं।
Overtraining के और भी कारण हैं। –
⏺ज्यादा दूरी तक दौड़ना।
⏺लम्बी दूरी की Jump(कदम गिरना)लेना।
⏺ज्यादा तेज दौड़ना।
⏺थकान।
⏺मांशपेशियों का चोटिल होने।
अगर इस तरह की कोई प्रॉब्लम है तो इस का मतलब है overtraining. जिसका कारण हैं मसल्स पर ज्यादा स्ट्रेस डालना।


Legs Feel Heavy When Running – Wearing the Wrong Shoes


जी हाँ गलत तरह के जूतों के साथ दौड़ने पर दौड़ के दौरान पैर भारी होने लगते हैं। दौड़ के लिए आपको अच्छे और कम बजन के जूते पहनना चाहिए। और ध्यान रखें जूते आपके पैरों के तलवे के according होने चाहिए। क्यों की हर व्यक्ति के तलवे की बनावट अलग होती है है। ऐसे जूते लें जिसमे पैर बिलकुल सीधा जमीन पर गिरे। न अंदर की ओर झुके और न बाहर की तरफ झुके। जब दौड़ के दौरान पैरो में दर्द हो तो एक बार नंगे पैर दौड़ कर देखें अगर समस्या नहीं आती है तो जूतों को बदल दें।


Legs Feel Heavy When Running – Poor Running Form


जब आप लगातार गलत पोजीशन में दौड़ते है जिस से पैरो पर ज्यादा स्ट्रेस पड़ता है। जिस से दौड़ के दौरान पैर भारी होने लगते हैं। running पोजीशन चेक करने के दो तरीके है।
🔸Ground Contact time – कितने समय तक पैर जमीन को छूते हैं।
🔸Vertical jump – कितना ऊँचा हर कदम पर उछालते हैं।
सही पोजीशन पर दौड़ने पर ये दोनों ही कम रहते हैं।
जमीन पर ज्यादा देर तक रहना जैसे ब्रेक लगने की तरह होता है। और स्पीड कम हो जाती हैं। और आगे बढ़ने के लिए ज्यादा ताकत लगानी पड़ती है। और ऐसा जब होता है जब पैर की एड़ी जमीन पर पहले गिरती है फिर पंजे से आगे की तरह फेकती है। और वही अगर सीधे पंजे को जमीन पर पहले गिराएंगे तो तुरंत पंजे से आगे की तरफ बढ़ पाएंगे। और दौड़ के दौरान ज्यादा उछाल लेने से एनर्जी बर्बाद होती है तथा पैरो पर ज्यादा जोर पड़ता है जिस से दौड़ के दौरान पैर भारी होने लगते हैं।


Legs Feel Heavy When Running – Weight Gain


बजन ज्यादा होने का कारण दौड़ के दौरान पैर भारी होने लगते हैं। बजन ज्यादा होने से न सिर्फ अतरिक्त बजन पैरो पर पड़ता है बल्कि बेढंग का शरीर होने से सही पोजीशन में भी नहीं दौड़ पाते जिस के कारण और ज्यादा पैरो पर बजन पड़ता है। तो आइए स्तिथि में अपनी डाइट में ऐसे फूड्स add करें जिज़ से बजन भी कम हो एनर्जी भी मिल सके।

ये भी पढ़ें – Foods that increase Running stamina | ये फूड्स रनिंग स्टैमिना को बढ़ाते हैं।


Legs Feel Heavy When Running – Low Carbohydrate Diet


कार्बोहायड्रेट और फैट बॉडी में ग्लाइकोजन के रूप में मांशपेशियों में स्टोर रहते हैं जो जी दौड़ के दौरान एनर्जी प्रोवाइड करते है। और जब कोई धावक कार्बोहायड्रेट कम कर देता है तो ग्लाइकोजन की कमी होने लगती है। और रिसर्च कहता है ग्लाइकोजन की कमी से दौड़ के दौरान पैर भारी होने लगते हैं। तो दौड़ से पहले कॉर्बोहैड्रेट से भरपूर खाना खाएं।


Legs Feel Heavy When Running – Iron Deficiency


दौड़ के दौरान शरीर को काफी मात्रा में ऑक्सीजन की जरूरत पड़ती है ऑक्सीजन की कमी से थकान और दर्द का अनुभव होता है। और आयरन से बॉडी में हीमोग्लोबिन बढ़ता है जो की ऑक्सीजन को मांशपेशियों तक पहुचता है। आयरन युक्त भोजन से ज्यादा हीमोग्लोबिन होगा और ज्यादा ऑक्सीजन होगा। जिस से बॉडी में लैक्टिक अम्ल नहीं बन पाता है और आप बिना थकान के लम्बी दूरी तक दौड़ पाएंगे।

ये भी पढ़ें – How to run faster | तेज दौड़ने के tips


Legs Feel Heavy When Running – Dehydration


बॉडी के अंदर 70% बजन पानी का होता है। पानी शरीर के अंदर fluid को संतुलित करता है। हाइड्रेशन और पानी से ही खून का गाढ़ापन कम होता है गाढ़ा खून कम नुट्रिएट्स को ग्रहण(Carry) कर पता है। तथा रक्त संचार की स्पीड भी कम हो जाती है इस लिए इसमें पानी की मात्रा खूब रहनी चाहिए।
बॉडी में पानी की कमी नहीं होनी चाहिए। ज्यादा दौड़ने पर बॉडी में अमोनियां और लैक्टिक अम्ल बनता है। अमोनियां मांशपेशियों का pH लेवल कम करता है। जिस से थकान बढ़ती है। और पानी इस अमोनियां यूरिन के जरिये निकलता है।
पानी की कमी पूरी करेने के लिए अपने यूरिन के रंग को पीला न होने दे। लगातार पानी पीते रहें जब तक यूरिन का रंग सफेद रहे तो समझना शरीर में कमी की कमी नहीं है।

Legs Feel Heavy When Running – Lack of Sleep

दौड़ के बाद ये बहुत जरूरी है कि खूब मात्रा में सोयें। क्यों दौड़ के दौरान मश्पेशिय ऊतक नष्ट हो जाते है और नए ऊतक बनाने के लिये बॉडी को सोने की जरूरत होती है। सोने के समय बॉडी ग्रोथ हार्मोन्स ज्यादा रिलीज़ करती है जिस से running रिकवरी होती है।

https://noblerunner.com/how-start-running/


हर धावक को कम से कम 8-9 घंटे जरूर सोना चाहिए। इसके साथ सोने से पहले प्रोटीन युक्त भोजन लें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Telegram
WhatsApp