How to run fast in hindi

How to run fast in hindi

December 16, 2018 0 By Noblerunner
Share with Friend's

How to run fast in hindi

तेज कैसे दौड़ा जाए। फ़ास्ट runner कैसे बनें।
अगर आप Google पर How to run fast in hindi serach कर कर के थक चुके है, तो आज आप सही वेबसाइट पर आ चुके हैं।
आज की इस पोस्ट से मैं आप को बताऊंगा फ़ास्ट रनिंग कैसे की जाये। How to run fast in hindi.
दोस्तों बहुत सारी मेहनत करने के बाद भी अगर आप की दौड़ने की स्पीड नहीं बढ़ रही है। तो इसका मतलब आपकी ट्रेनिंग में कुछ ना कुछ कमी बाकी रह रही है। और या फिर आपकी ट्रेनिंग या अभ्यास करने का तरीका गलत है।
तो आप क्या ऐसा करें जोस् से दौड़ने की स्पीड बाद जाये। तो चलिए शुरू करते हैं।

Focus on Form

सबसे पहले आपको एक कैमरा लेना है। जिस से आप एक अपना फ़ास्ट दौड़ते हुए वीडियो को बनाना है कम से कम 5 मिनट का। फिर उस वीडियो को देखें और जाने के दौड़ते समय आपकी बॉडी का posture () कैसा है। अगर बॉडी का posture अच्छा नहीं होगा तो ज्यादा affort लगाने पर भी स्पीड कम रह जायेगी। तो वीडियो में इन चीजों को देखें जैसे

  1. सर कही झुका ना हो। और मुह का जबड़ा कसा ना हो , आराम से हों।
  2. सोल्डर सीधे और आराम से हों। और थोड़ा सा कानों की तरफ ऊपर उठा हो।
  3. हांथो की मुट्ठी tight बंद न हों। हाँथ थोरे से खुले हों।
  4. पैरों के कदम हिप्स के नीचे जमीन पर गिरें।
  5. हिप्स बाहर की तरफ न हो।
  6. ऊपर की बॉडी और नीचे की बॉडी दोनों बिलकुल सीधी रहे।
  7. और आगे की तरफ इस एंगल पर पूरी बॉडी जुकी हो।

तो इन चीजों को वीडियो में देखें , अब जो आप गलतियाँ कर रहें है उन्हें सुधारें। ऐसा करना वेहद जरूरी है।
अगर बॉडी का पोस्चर अच्छा होगा तो बॉडी तो सेण्टर ऑफ़ ग्रेविटी सही होगा जिस से बॉडी में अच्छा momentum बनेगा और कम affort में ज्यादा स्पीड मिलेगी। और बॉडी में चोट आने के चान्सेस कम होंगें।

Flexibility

तेज भागने के लिए बॉडी का लचीला होना बहुत आवश्यक है। बॉडी जितनी ज्यादा flexible होगी उतने ही ज्यादा अच्छे से और स्पीड में react करेगी। जिसके लिए आपको हमेशा दौड़ से पहले और दौड़ के बाद flexibility का अभ्यास करना चाहिए।

Increse Cadance

फ़ास्ट रुंनिंग करनी है तो पर मिनट गिरने वाले क़दमों को गिनना चाहिये। कदम जितने ज्यादा स्पीड उतनी ही ज्यादा होगी । एक प्रोफेशनल रनर की पर मिनट गिरने वाले क़दमों की everage संख्या 170 से 180 होती है। यानि की कदमो के गिरने की संख्या जितनी अधिक होगी स्पीड उतनी ही तेज होगी। How to run fast in hindi का ये टिप्स जरूर फॉलो करें।

Small and quicker steps

तेज दौड़ने के लिय ज्यादा से ज्यादा कदम लें। frequency ज्यादा होनी चाहिए और Stride length यानि की कदमो की बीच की दूरी इतनी हो की क़दमों की संख्या कम न होने पाएं। क्यों की ज्यादा लंबे कदम रख कर दौड़ने के लिए पैरो में ज्यादा ताकद होनी चाहिए। तो कदमो की दूरी अपने हिसाब से इतनी रखें कि ज्यादा से ज्यादा कदम एक मिनट में गिरें।

How to run fast in hindi

How to run fast in hindi.

Set Small Targets

स्पीड को बढ़ाना है तो छोटे छोटे Target सेट करें जिस से स्पीड फ़ास्ट हो सके। जैसे की पहले 50 मीटर का टारगेट 7 सेकण्ड में सेट किया। अब जबतक ये ये target achive न कर ले जब तक इस लक्ष्य को दोहराते रहें। और जब 50 मीटर 7 सेकण्ड में दौड़ने लगें फिर 100 मीटर का टारगेट 14 सेकंड में रखें। और जब 14 सेकंड में 100 मीटर दौड़ने लागो तो फिर 13 सेकंड में 100 मीटर का लक्ष्य रखें। जब इसे भी प्राप्त कर लें। फिर 200 मीटर को 30 सेकंड में दौड़ें। और फिर 400 मीटर को 1 मिनट दौड़ने का लक्ष्य रखें। इस तरह से क्रम में टारगेट को सेट करें। स्पीड में फायदा जरूर होगा।

Weight training

फ़ास्ट रनिंग सीखने में weight ट्रेनिंग काफी मदद करती है। तो आप जब दौड़ लगाने जाएँ तो कुछ बजन अपनी पीठ पर बाँध लें । शुरुआत में काम बांधे और हर हफ्ते के बाद धीरे धीरे इसे बढ़ाये। वेट ट्रैंगिंग से आपको बहुत से फायदे होंगे जिनसे आपकी स्पीड में बदोतारीं होगी। इस ट्रेनिंग से पैरों की मासपेशियां एकदम से लोहा हो जाएंगी। और तेज दौड़ने के लिए मजबूत पैर चाहिए होते है। तो इस ट्रेनिंग को जरूर उपयोग करें।

Send Running

How to run fast in hindi के लिये रेत में दौड़ लगाये। रेत में दौड़ लगाने का तो मज़ा ही अलग है। अगर आप रेत में दौड़ लगाएंगे तो पैरों की मासपेशियां मजबूत होंगी। साथ ही साथ में रनिंग जम्प भी ऊँची होगी जिस से stride lenghth बढ़ेगी और दौड़ने की स्पीड बढ़ेगी। रेत में दौड़ने का सबसे बड़ा कारण ये है कि रेत में दौड़ने से थकान नहीं होती है क्यों की पैरो के नीचे बहुत ही सॉफ्ट बालू होती है।

Weight Loose

अगर फ़ास्ट दौड़ना है तो वेट को कम करना होगा जितना काम वेट उतनी ज्यादा स्पीड मिलेगी। अगर बजन काम होगा तो हमारे पैर दौड़ते समय पूरी बॉडी को आगे की तरफ दूर तक फैंक पाएंगे जिसे से दौड़ने की स्पीड बढ़ जायेगी।
बजन काम करने से चेस्ट में लगा फैट यानि की मॉस काम हो जाता है जिस से फैफड़ों में पड़ने वाला दबाब काम हो जायेगा और वह ज्यादा फूलेगा। जिसका परिणाम होगा ज्यादा ऑक्सीजन । और ज्यादा स्पीड।

Rest for Recovery

फ़ास्ट रनिंग के लिए अभ्यास करना जितना जरूरी है उतना ही जरूरी आराम करना भी है। और ये भी ट्रेनिंग का एक एहम पार्ट है। अगर आप रोज दौड़ लगाते है और आराम नहीं करते है तो उस तरह की ट्रेनिंग से बहुत ही समस्याए आ सकतीं है।
क्यों की रोज दौड़ते समय बहुत सारी मासपेशियां टूट जाती है। और नयी मासपेशियां बनने के लिए समय और आराम दोनों चाहिए होता है। वही अगर रोज दौड़ लगाएंगे तो नहीं मासपेशी तो नहीं बनेगी जो पुरानी है वो भो ख़त्म होगी जिसका परिणाम होगा की शरीर की ताकत काम होगी ख़ासकर की पैरों की। तो नई मासपेशियों को बनने का टाइम दे । तो हर दो या तीन दिन के बाद एक दिन का आराम दें और रोज काम से कम 8 घण्टे सोना चाहिए। और खाने में प्रोटीन की मात्रा बड़ा देनी चाहिए।

Get Strong for fly

फ़ास्ट रुंनिंग करने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी होता है मजबूत बॉडी। जैसे मजबूत पैर, पेट, छाती, सोल्डर, अगर ये सभी स्ट्रांग है तो फ़ास्ट रुंनिंग करना आसान हो जाता है। बॉडी के हर पार्ट का रुंनिंग के दौरान कुछ ना कुछ एहम रोल जरूर होता है। तो सभी पार्ट्स का strong होना बहुत जरूरी है। जैसे अगर आपके पैर मजबूत नहीं है तो क्या बॉडी के पूरे बजन को देर तक आगे की तरफ फेंक पाएंगे? और अगर अगर छाती मजबूत नहीं है तो क्या देर तक गेहरी साँस ले पाएंगे?

How to run fast in hindi

How to run fast in hindi

“How to run fast in hindi”

देर तक तेज दौड़ने के लिए पूरी बॉडी का मजबूत होना बहुत ही जरूरी होता है। क्यों की जब दौड़ते है तो बॉडी के सभी पार्ट्स support करते है जिस से एक अच्छा momentum बनता है जो की आगे बढ़ने में मदत करता है। और कुछ समय बाद बॉडी के ये पार्ट थकने लगते हैं। अब अगर कोई पार्ट काम मजबूत है तो वह जल्दी थकेगा जिसके कारण दौड़ जल्दी बंद करनी पड़ेगी। तो सभी अंगों को मजबूत बनाना है।

Learnt Breath Technique-

तेज दौड़ने के लिए बहुत सी ऊर्जा चाहिए होती है। और शरीर में एनर्जी खाना देता है। और खाने को एनर्जी में बदलने के लिए ऑक्सीजन की जरुरत होती है। अगर ऑक्सीजन की कमी हुई तो एनर्जी डाउन होगी और ऑक्सीजन की कमी के कारण लेक्टिक अम्ल की मात्रा बढ़ जायेगा। जिस से थकान होगी । तो देखिये सिर्फ साँस सही से न लेने मात्रा से ही रुंनिंग में कितना नुकसान होता है। तो अगर तेज दौड़ना है तो साँस लेना सीखें। Cirrect Breathing Technique

interval training

इन्टरवल ट्रेनिंग रुंनिंग की स्पीड और स्टेमिना बढ़ाने में काफी मदद करता है। इस ट्रेनिंग के अन्तर्गत धावक को कुछ दूरी तक तेज दौड़ना होगा। इस दौरान लगे समय के आधे भाग में स्लो दौड़ना है। और फिर से तेज दौड़ना है। इस क्रिया को कई बार दोहराना है। तब जा के आप सीख पाएंगे How to run fast in hindi
तो इन ख़ास चीजो को अगर ध्यान में रखेंगे तो तेज दौड़ने से कोई भी नहीं रोक सकता। और अभ्यास के साथ साथ खाने पीने का भी ध्यान रखना है। जिस से बॉडी सभी nutrients प्राप्त होते रहेंगें और परफॉरमेंस में वृद्धि होती रहेगी।How to run fast in hindi इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ फेसबुक, ट्विटर और व्हाट्सअप पर शेयर जरूर करें। उनको ये बहुत पसंद आयेगा।

How to run fast in hindi
Rate this post