Monday, January 17, 2022
HomeBodybuilding supplementsबीटा एलानीन - Beta alanine benefits and side effects

बीटा एलानीन – Beta alanine benefits and side effects

Beta alanine benefits and side effects


Beta-alanine एक एमिनो अम्ल है जो की माश्पेसियों और brain में पाया जाता है। यह carnosine का निर्माण करता है जो वर्कआउट के दौरान lactic acid को नहीं बनने देता है। इस लिए यह एक प्रदर्शन को बढ़ाने वाला सुप्प्लिमेंट है। Beta-alanine anaerobic workout में सबसे effective होता है। जैसे की sprinting दौड़। यह थकान को जल्दी हावी नहीं होने देता। वर्कआउट sets के बीच में रिकवरी करता है।
महिलाओं और शाकाहारी लोगो में मासाहारी की तुलना में कम carnosine level होता है। उम्र के बढ़ने के साथ carnosine का लेवल कम होता जाता है।


एलानीन के फायदे क्या हैं?


Beta-alanine मसल्स में लैक्टिक एसिड को कम बनाने देता है जिस से वर्कआउट की अवधि बढ़ जाती है। beta-alanine एक अन्य योगिक histidine के साथ मिलकर carnosine बनाता है। जो की कंकाल तंत्र ऊतकों में जमा होता है। जिस के द्वारा gym performance और एथलीट प्रदर्शन बढ़ता है।

The Benefits of Beta Alanine for runners performance


मसल्स को ग्लाइकोजन के द्वारा एनर्जी की जरूरत होती है। और जब हाई intensity वर्कआउट के द्वारान ग्लाइकोजन एनर्जी के रूप में बदलता है। लेकिन टाइम की कमी के कारण या फिर ऑक्सीजन की कमी के कारण लेक्टिक अम्ल का निर्माण होने लगता है। लैक्टिक अम्ल बनने का दूसरा कारण हाइड्रोजन आयन की अधिकता से भी बनता है। जिस से वर्कआउट के दौरान माश्पेसियों में contraction(सिकुड़न) काम हो जाता है। ऐसी स्तिथि में एक्सरसाइज करना कठिन हो जाता है।

कारनॉइन, carnocine effect

Carnosine इन हाइड्रोजन अयन को buffer (कम) करता है।
जब beta-alanine थाकन को कम करता है तो स्ट्रेंथ को बढ़ाता है। शोधों के अनुसार beta-alanine के तीन सप्ताहों तक उपयोग करने पर फैट को कम कर लीन मसल्स गेन कर सकते है।
Sodium bicarbonate और beta-alanine वर्कआउट के लिए supercharge होता है। बैकिंग सोडा की प्रवत्ति क्षारीय होती है जो की मसल्स में एसिड लेवल को कम करता है। तो इस लिए यह beta alanine के साथ मिलकर परफॉरमेंस को और बढ़ा देता है।

L-Citrulline Supplement Benefits and Dosage |


Recommended dosage बीटा एलानीन


Beta-alanine को हर रोज इस्तेमाल कर सकते हैं। लागतर 4 हफ्ते beta alanine की 2-5 ग्राम की डोज़ लेने पर मसल्स में carnosine का लेवल 40-60% तक बढ़ जाता है।
बीटा एलानीन को क्रेटीन या फिर बैकिंग सोडा के साथ लेने पर Performance और indurance दोनों में वृद्धि होती है।
Beta-alanine को वर्कआउट से 30-45 मिनट पहले लेना चाहिए जिस से यह बड़ी के सिस्टम में enter होकर अपने इफ़ेक्ट

Noblerunnerhttps://noblerunner.com
Hi guys. I am enthusiastic of running. I like to spend my time for running. So by this blog i can always contact with running. And feeling happy to solve and share my experience.
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments