Almond | बादाम में कितना प्रोटीन होता है। बॉडीबिल्डिंग में बादाम के क्या फायदे हैं?

आप से सुना होगा जितने भी बड़े पहलवान होते है वह सभी अपनी डाइट में बादाम (almond) को बहुत ज्यादा उपयोग करते है। इसका कारण है। बादाम में बहुत ही जरूरी न्यूट्रिएंट्स होते है जो की बॉडी को ताकत प्रदान करते है। जो की पूरी तरह नेचुरल होता है। किसी सुप्पलीमेंट्स की तरह इसमें मिलावट नही होती है।


अगर आप एक बॉडीबिल्डर है और एक न्युट्रिशन की तलाश है जिस से क्वालिटी लीन मसल्स बनायीं जा सके, तो इस के लिए almond से बेहतर और कुछ नहीं। almond में बहुत से न्यूट्रीएंट्स जैसे प्रोटीन, हेल्थी अन सैचुरेटेड फैट। यद्यपि प्रोटीन एक लीन मसल्स बिल्डिंग का कॉम्पोनेन्ट है । बादाम बजट में भी आसानी से फिट हो जाता है।


Almond Nutritional profile


28 ग्राम बादाम में , बादाम में उच्च मात्रा में फाइबर, कैल्शियम, विटामिन E, राइबोफ्लेविन और नियासिन होता है। प्रत्येक 23 बादाम खाने से 6 ग्राम प्रोटीन, Vitamin E (रोज की जरुरत का 35%), मैग्नीशियम (रोज की जरुरत का 20%), राइबोफ्लेविन (रोज की जरुरत का 20%), कैल्शियम (रोज की जरुरत का 8%), पोटैशियम (रोज की जरुरत का 6%) और बादाम का lgycemic index low होता है।
और अलग नुट्स की तरह बादाम में भी high फैट होता है। लेकिन उसमें मोनो सैचुरेटेड फैट होता है।

ये भी पढ़ें – बॉडी बनाने के लिये सबसे सस्ता प्रोटीन सोर्स क्या है।


Banifits of almond in bodybuilding बॉडीबिल्डिंग में बादाम के फायदे?


Almond Protein for Increased Muscle Mass


प्रोटीन मसल्स, स्किन, कार्टिलेज का स्ट्रक्चर एलीमेन्ट है। यह मेटाबोलिक फक्शन में भी मदद करता है। जैसे की ब्लड को ऑक्सीजन पहुचाना। प्रोटीन शरीर का एक अभिन्न अंग है। एक ओंस बादाम में 6 ग्राम प्रोटीन होता है जो की बोडीबिल्डर्स के लिए बहुत एहम होता है।

ये भी पढ़ें- बॉडीबिल्डिंग के लिए मसल्स बिल्डिंग के जरूरी नियम।


Almond Vitamin E


बादाम में फैट soluble विटामिन E होता है जो की smooth मसल्स बिल्डिंग में हेल्प करता है। बोडीबिल्डर्स इसे सुप्पलीमेंट से या फिर नेचुरल सोर्स से इस्तेमाल करते है। एक मुट्ठी बादाम खाने से 35% रोज की जरुरत का विटामिन E की कमी पूरी होती है।



Almond Magnesium


मैग्निशियम बॉडी में 300 से ज्यादा फक्शन को रेगुलेट करता है। वर्कआउट के दौरान मसल्स को रिलैक्स करता है। और दर्द से राहत पहुचता है। एनर्जी प्रोडक्शन और ब्लड शुगर को कंट्रोल करता है। और अच्छी नींद के लिये भी जरूरी है। एक मुट्ठी बादाम से दिन की जरुरत का 20% मैग्नीशियम मिल जाता है।


Almond Reduce hunger


बॉडीबिल्डिंग में cutting के दौरान कैलोरीज को कम करना पड़ता। और इस लिए कुछ ऐसा खाएं जिस से भूख कम लगे। ऐसी situation में बादाम खाना चाहिए इसमें कार्ब्स कम होते हैं। और प्रोटीन, फाइबर ज्यादा होते है जिस ऐ पेट ज्यादा समय तक भरा हुआ महसूस होता है। और भूख कम लगती हैं। जिस से जो लोग अपना बजन कम करना चाहते है। उनके लिए भी बादाम बहुत अच्छा होता है।


Almond Healthy for bones


बादाम में मैग्नीशियम के साथ फॉस्फोरस, कैल्शियम होता है जो कि हड्डियों के घनत्व (density) को बढ़ाता है और bones को strong बनाता है।

बादाम को कैसे खाएं?


बादाम को पानी में 4 घंटे भिगो दें। फिर इसे अच्छे से पीस कर दूध में मिला कर खाये। अगर साबुत खा रहे है तो अच्छे से चबा कर खाएं। तो इसका पूरा फायदा मिलता है।

Google पर हमारे article को सर्च करने के लिए noblerunner को जोड़ कर सर्च करें। इस आर्टिकल को अपने दोस्तों के साथ watsapps, twitter facebook शेयर करें। उन्हें जरूर पसंद आयेगा।

1 Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *